PhD Kaise Kare – Ph.d ( पीएचडी ) का नाम आपने कभी सुना तो होगा ही ? शायद हाँ , सुनेंगे क्यों नहीं ! यह एक पॉपुलर कोर्स जो हैं। लाइफ में हर किसी का अपना एक गोल होता हैं की कब क्या करना हैं ? कोई इंजीनियर बनना चाहता है तो कोई आईएएस और आईपीएस बनके देश की सेवा करना चाहता हैं।

किसी भी मुकाम तक पहुंचने के लिए आपको लाइफ में बहुत सारे कामों को करना होता हैं। एक सिंपल सा जॉब के लिए भी आपको काफी Efforts लगाने पड़ते हैं। आज इस पोस्ट हम बात करने वाले है – एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स जिसका नाम है – Ph.D ( पीएचडी ).

इस पोस्ट में हम विस्तार से जानेंगे कि पीएचडी ( Ph.D ) क्या हैं ? पीएचडी ( Ph.D ) कैसे करें ? पीएचडी ( Ph.D ) करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए ? आदि !

आपको इस पोस्ट में पीएचडी की A to Z जानकरियां मिल जाएँगी ।

PHD Kya Hai
PHD Kya Hai

आज हम क्या सीखेंगें ?

पीएचडी कोर्स क्या हैं ? What is Ph.D Course In Hindi ?

Ph.d एक उच्च लेवल कोर्स हैं। जिसे करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता हैं। यह एक डॉक्टरल कोर्स हैं जिसकों करने के लिए आपको तीन साल का समय लगेगा। मुख्यतः यह कोर्स वे लोग करते हैं जिन्हे प्रोफेसर या व्याख्याता (Lecturer) बनना होता हैं। इस कोर्स को करने के बाद आपको उस सब्जेक्ट में भरपूर ज्ञान होता है जिसमें आप यह कोर्स करते हैं।

इसे करने के बाद आप सिर्फ प्रोफेसर या लेक्चरर ही नहीं बल्कि रिसर्च और एनालिसिस भी कर सकते हैं। सबसे गर्व की बात है कि इस कोर्स को करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता हैं। मैं भी इस कोर्स को करने की कामना करता हूँ।

PhD Full Form in Hindi » पीएचडी का फुलफॉर्म

Ph.D का फुल फॉर्म होता हैं – Doctor Of Philosophy . यह एक उच्च लेवल कोर्स हैं। जिसे करने के लिए आपको बहुत ही धैर्य रखने की आवश्यकता हैं क्योंकि इस कोर्स में आप डायरेक्ट एडमिशन नहीं ले सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको मास्टर डिग्री करनी होती हैं तभी आप इस कोर्स को करने के योग्य होते हैं।

पीएचडी लिए योग्यता क्या चाहिए (Eligibility Criteria for Ph.d  Degree Course)

  • आपकी ग्रेजुएशन पूरी होनी चाहिए।
  • मास्टर डिग्री पूरी होनी चाहिए।
  • एंट्रेंस एग्जाम के लिए कम से कम 55% या 60% मार्क्स चाहिए। ये प्रतिशत हर कॉलेज में अलग अलग होती है।

पीएचडी कोर्स करने के फायदे (Advantage of Phd Course in hindi)

  • पीएचडी ( Ph.d ) उच्च यानि हाईएस्ट डिग्री कोर्स है।
  • पीएचडी करने के बाद आप अपने फील्ड में एक्सपर्ट कहलायेंगे।
  • पीएचडी करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एक प्रोफेसर बन सकते है।
  • पीएचडी करने के बाद आप रिसर्च या एनालिसिस कर सकते है।
  • पीएचडी करने के बाद आपने नाम के डॉ (Dr) की उपाधि लग जाती है।
  • पीएचडी करने के बाद किसी भी पोजीशन की जॉब में अप्लाई कर सकते है।
  • पीएचडी करने वाले को हम ‘Creator Of Information’ भी कहते है।
  • पीएचडी करने के बाद आपको अपने फील्ड में ये सब कुछ ज्ञान हो जायेगा कि क्या सही है और क्या गलत है।

Phd Kaise Kare » Ph.D कैसे करें ?

 1. 12th पास करे .

किसी भी सब्जेक्ट में डिग्री हासिल करनी हो तो इसके लिए सबसे पहले आपको 12वीं पास करनी ही होगा। इसी तरह अगर आपको पीएचडी 10th पास करने के बाद करना है तो इसके लिए आपको 12वीं पास करना होगा। अब जिस भी सब्जेक्ट में आपकी रुचि है उसी सब्जेक्ट को चुने। 11th में उसी सब्जेक्ट का चयन करे ताकि आपको आगे जाकर फायदा हो और कोशिश करे कि 12वीं अच्छे मार्क्स से पास करे। और कम से कम 60% मार्क्स लाये।

 2. ग्रेजुएशन के लिए अप्लाई करे और पढाई पूरी करे

जैसे ही आप 12वीं पास कर लेते हैं तो इसके बाद आपका जो भी सब्जेक्ट या फील्ड पसंदीदा है यानि जिस भी कोर्स के लिए आप पढाई करना चाहते है उसके लिए एंट्रेंस एग्जाम दे और एग्जाम क्लियर करके अपने ग्रेजुएशन डिग्री की पढाई पूरी करे। जिस भी फील्ड में एक्सपर्ट बनना चाहते है उस सब्जेक्ट को अच्छे से पढ़े और ज्यादा से ज्यादा मार्क्स लाये, आगे जाके आपको इससे फायदा होगा।

 3. मास्टर डिग्री की पढाई पूरी करे

जैसे ही आप अपनी ग्रेजुएशन पूरी कर लेते है इसके बाद अब आपको पोस्ट ग्रेजुएशन यानि मास्टर डिग्री के लिए अप्लाई करना होगा ध्यान रहे जिस फिल्ड या सब्जेक्ट में आपने बैचलर डिग्री (Bachelor Degree) पूरी की है उसी सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री (Master Degree) पूरी करें। तभी आपको Phd में फायदा होगा और कोशिश करे कि मास्टर और बैचलर डिग्री में आपके कम से कम 60% मार्क्स हासिल हो ताकि आपको आगे एंट्रेंस एग्जाम के लिए कोई दिक्कत न हो।

 4. UGC NET टेस्ट के लिए अप्लाई करे और क्लियर करे

जैसे ही आपकी पोस्ट ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है तो आपको पीएचडी (Phd) करने के लिए यूजीसी नेट (UGC NET) एग्जाम देना होगा और इससे क्लियर करना होगा। पहले ये एग्जाम नहीं था लेकिन अब पीएचडी करने के लिए इस एग्जाम को क्लियर करना अनिवार्य कर दिया गया है।

 5. PhD के लिए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करे

जैसे ही नेट एग्जाम क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आप पीएचडी (Phd) एंट्रेंस एग्जाम देने के लिए योग्य हो जाएंगे। तो अब आपको अपने हिसाब से जिस भी कॉलेज से आपको पीएचडी की पढाई करनी है उस कॉलेज के एंट्रेंस एग्जाम दे। हर यूनिवर्सिटी (University) अपने-अपने एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट करती है। पीएचडी के लिए तो आपको इस एग्जाम को क्लियर करना होगा तभी आपको एडमिशन मिलेगा.

तो इस तरह आप पीएचडी की डिग्री हासिल कर सकते है और अपने फेवरेट सब्जेक्ट में और ज्यादा ज्ञान पा सकते है। अब बहुत से लोगो के मन में सवाल आया होगा कि पीएचडी (Ph.d) के लिए कितना शुल्क (Fees) लगता है और कौनसे कॉलेज से पीएचडी करना सही होगा। पीएचडी कॉलेज की फीस और इसमें कितना खर्चा आएगा।

पीएचडी की फीस कितनी हैं | Fee Of Ph.d

ये कोई निर्धारित नहीं  है कि कितनी फीस लगेगी। हर कॉलेज की फीस अलग-अलग होती है और अगर आप प्राइवेट कॉलेज से पीएचडी करते है तो आपको बहुत खर्चा आएगा। बात करें कॉलेज की, कि कौनसा कॉलेज का चयन किया जाए तो वो आप अपने राज्य के हिसाब से बढ़िया कॉलेज को चुनें।

Ph.D से सम्बंधित पूछे जाने वाले सवाल

पीएचडी कब कर सकते हैं?

पीएचडी कोर्स मास्टर डिग्री (स्नातकोत्तर) के बाद किया जाता है यानि की MA या MSC या MCOM करने के बाद आप इस कोर्स के लिए योग्य हैं। जिस विषय में आप पीएचडी करते है उस विषय के बारे में आपको अधिक ज्यादा ज्ञान हो जाता है और उस विषय के आप विशेषज्ञ कहलाते है। पीएचडी कोर्स 3 साल का होता है इस कोर्स को करने के बाद ही आप कॉलेज में प्रोफेसर बन सकते है।

Ph.D कैसे करे ?

पीएचडी करने लिए सबसे पहले आप अपनी मास्टर डिग्री की पढाई पूरे करें। उसके बाद NET UGC का एग्जाम क्लियर करें। अधिक जानकरी आप ऊपर पढ़ सकते हैं।

पीएचडी के लिए क्या योग्यता चाहिए?

पीएचडी में दाखिला लेने के लिए आपके ग्रेजुएशन (BA/BCOM/BSC) पूरी होनी चाहिए। ग्रेजुएशन के साथ में मास्टर डिग्री (MA/MCOM/MSC) भी पूरी होनी चाहिए। PHD में Admission के लिए आपको पहले Entrance Test Pass करना होता है जिसके लिए आवेदन करने के लिए आपके न्यूनतम 55% मार्क्स होने चाहिए।

पीएचडी कोर्स कितने वर्ष का होता है ?

यह वैसे तो तीन वर्षों का कोर्स है लेकिन सरकार समय – समय पर अपने नियम बदलती रहती हैं।

पीएचडी करने के क्या फायदे हैं ?

1.पीएचडी ( Ph.d ) उच्च यानि हाईएस्ट डिग्री कोर्स है।
2.पीएचडी करने के बाद आप अपने फील्ड में एक्सपर्ट कहलायेंगे।
3.पीएचडी करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एक प्रोफेसर बन सकते है।
4.पीएचडी करने के बाद आप रिसर्च या एनालिसिस कर सकते है।
5.पीएचडी करने के बाद आपने नाम के डॉ (Dr) की उपाधि लग जाती है।
6.पीएचडी करने के बाद किसी भी पोजीशन की जॉब में अप्लाई कर सकते है।
7.पीएचडी करने वाले को हम ‘Creator Of Information’ भी कहते है।
8.पीएचडी करने के बाद आपको अपने फील्ड में ये सब कुछ ज्ञान हो जायेगा कि क्या सही है और क्या गलत है।

Ph.D का फुल फॉर्म क्या हैं ?

Ph.d का फुल फॉर्म Doctor Of Philosophy होता हैं।

Conclusion

तो इस पोस्ट में हमने विस्तार से जाना कि Phd Kya Hai, पीएचडी का फुल फॉर्म क्या है और Phd Kaise Kare ? आदि। यदि आपका अभी भी कोई सवाल है तो कमेंट में जरूर पूछें।

अगर पोस्ट से कुछ भी नया जानने को मिला तो इस पोस्ट को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करें ताकि आपके दोस्तों को भी उच्च शिक्षा ग्रहण करने की जानकरी हो।