किसान रजिस्ट्रेशन 2022: ऑनलाइन आवेदन (Farmer Registration Process)

Google App उपयोगकर्ता आर्टिकल सुनने के लिए यहाँ क्लिक करें।

किसान पंजीकरण (Kisan Registration): भारत एक कृषि प्रधान देश हैं। यहाँ 85 प्रतिशत से ज्यादा लोग किसान हैं और सब किसान गाँव में ही रहते हैं। हमारा देश आज भी विकसित देश की श्रेणी में नहीं आता हैं।

भारत अभी विकासशील देश हैं। किसानों को कृषि में बहुत तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए भारत सरकार(केंद्र सरकार चाहे राज्य सरकार) किसानों के हित में भांति-भांति की योजनाएं चलाती रहती है।

Kisan Panjikaran Kaise Kare
Kisan Registration Kaise Kare ?

आज आप Kisan Panjikaran यानि Kisan Registration के बारे में जानने वाली हैं। जिसमें आप किसान पंजीकरण/रजिस्ट्रेशन (Farmer Registration) कैसे करें, इसके के फायदे आदि महत्वपूर्ण बातें जानेंगें।

[Kisan Registration] किसान पंजीकरण क्या है ? What Is Farmer Registration ?

भारतीय सरकार के द्वारा चलायी जा रही अलग-अलग योजनाओं का लाभ लेने बाबत आपको किसान पंजीकरण करना होता हैं।

यह एक ऑनलाइन प्रक्रिया होती है जिसे बिना आप सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से वंचित हो सकते हैं। चाहे वह केंद्र सरकार की योजनाएं हों या फिर चाहे राज्य सरकार की।

चूंकि केंद्र सरकार की वेबसाइट द्वारा किसान रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन माध्यम से होता हैं। लेकिन कुछ राज्यों में किसानों का रजिस्ट्रेशन ऑफलाइन माध्यम से भी हो सकता है।

किसान पंजीकरण जीवनकाल में एक ही बार किया जाता हैं। भविष्य में उसी पंजीकरण का उपयोग करके सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत अनुदानों का लाभ लिया जा सकता है।

किसान पंजीकरण क्यों जरुरी हैं ?

जैसा कि हमने पहले भी जाना कि सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसान पंजीकरण जरूरी है। ये योजनाएं कृषि में बहुत सहायक हो सकती हैं, जैसे –

किसान पंजीकरण के लाभ

  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PMKSNY – PM Kisan)
  • डीजल अनुदान योजना
  • बीज अनुदान योजना
  • मृदा पानी जांच योजना
  • प्रधानमंत्री किसान सिंचाई योजना
  • कृषि यंत्रीकरण योजना
  • प्रधानमंत्री कुसुम योजना
  • प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना आदि।

और इन सभी योजनाओं की लाभराशि सीधे DBT (Direct Benefit Transfer) के जरिये किसान के खाते में हस्तांतरित कर दी जाती है।

किसान रजिस्ट्रेशन 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज

Farmer Registration के लिए आपको बहुत ज्यादा कागज़ातों की जरूरत नहीं है आपको बस निम्नलिखित कुछ चीज़ें ही बतौर प्रमाण चाहिए होंगी –

  • आधार कार्ड,
  • मोबाइल नंबर (जिस पर OTP भेजा जाएगा)
  • बैंक खाता (Bank Account)
  • IFSC कोड (आपकी बैंक पासबुक पर लिखा होगा)
  • भूमि का खाता या खसरा संख्या।

किसान रजिस्ट्रेशन (Kisan Panjikaran) के लिए आधिकारिक वेबसाइटें

किसान रजिस्ट्रेशन के लिए केंद्र सरकार और हर राज्य की अलग-अलग वेबसाइट हैं। आप चाहें तो केंद्र सरकार की या चाहें तो अपनी राज्य सरकार की वेबसाइट से किसान पंजीकरण कर सकते हैं।

केंद्र और सभी राज्य सरकार की अलग-अलग वेबसाइट हैं। जो कि निम्न हैं –

Centerकिसान पंजीकरण केंद्र
Rajasthanकिसान पंजीकरण राजस्थान
Haryanaकिसान पंजीकरण हरियाणा
Biharकिसान पंजीकरण बिहार
Uttar Pradeshकिसान पंजीकरण यूपी (उत्तरप्रदेश)
Madhya Pradeshकिसान पंजीकरण एमपी (मध्यप्रदेश)
Punjabकिसान पंजीकरण पंजाब
Himachal Pradeshकिसान पंजीकरण हिमाचल प्रदेश
Chhatisgarhकिसान पंजीकरण छतीसगढ़
Jharkhandकिसान पंजीकरण झारखंड
West Bengalकिसान पंजीकरण पश्चिम बंगाल
Telanganaकिसान पंजीकरण तेलंगाना
Karnatakaकिसान पंजीकरण कर्नाटक
Odishaकिसान पंजीकरण ओडिशा
Tamilnaduकिसान पंजीकरण तमिलनाडु
Keralaकिसान पंजीकरण केरल
Offical Sites For Kisan Registration

किसान पंजीकरण कैसे करें ?

अब बात आती है कि किसान रजिस्ट्रेशन करने का तरीका क्या है ? तो Kisan Registration करने के 2 तरीके निम्न हैं –

CSC/E-Mitra से पंजीकरण

यह पंजीकरण करने का पहला तरीका है जो कि तब अधिक उपयोगी है जब आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक न हो या रजिस्ट्रेशन में और कोई समस्या आ रही हो।

आपको सबसे पहले अपने दस्तावेजों के साथ जन सेवा केंद्र या ई-मित्र पर जाना है और CSC संचालक को किसान पंजीकरण करने के लिए कहना है और उपरोक्त सारे दस्तावेज पेश करने हैं।

फिर वह आपका रजिस्ट्रेशन फॉर्म भर देगा और आपके फिंगरप्रिंट लगाते ही आपका वेरिफिकेशन सफलतापूर्वक होने पर फॉर्म सबमिट हो जायेगा।

आपको अंत में एक Acknowledgement Receipt दे दी जाएगी जिस पर आपकी पंजीकरण संख्या लिखी होगी। इसे आपको संभाल कर रख लेना है।

जन सेवा केंद्र संचालक आपसे कुछ शुल्क भी ले सकता है।

घर बैठे किसान रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन

पंजीकरण के इस तरीके में आप घर बैठे बिना फिंगरप्रिंट सत्यापन के OTP के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। इसके लिए आपका मोबाइल नंबर आधार से जुड़ा हुआ होना चाहिए –

अभी यहाँ आपको MKisan से रजिस्ट्रेशन का तरीका बताया गया है जो कि केंद्र सरकार की वेबसाइट है। अन्य सभी राज्य की वेबसाइट पर भी यह प्रक्रिया तक़रीबन एक जैसी ही होगी।

– वेबसाइट के जरिये

  • सबसे पहले ऊपर लिस्ट में से देखकर आपको केंद्र या राज्य की की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपको Kisan Registration विकल्प को खोजकर उस पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा जिसमें आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज कर Proceed पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना नाम, राज्य, जिला, खंड, उपजिला, गाँव, उम्र, लिंग, योग्यता, भूमि (हेक्टेयर में), भाषा, टेक्स्ट/वॉइस और फसल या पशु आदि जानकारी भरनी होगी।
  • अब आपको Captcha Code भरकर Submit पर क्लिक करना होगा। फिर आपके मोबाइल नंबर पर 4 अंकों की एक OTP भेजी जाएगी।
  • इस तरह आपका किसान रजिस्ट्रेशन सफलतापूर्वक हो जायेगा।

– Kisan Call Center के जरिये

  • सबसे पहले आपको किसान कॉल सेंटर (KCC) पर कॉल करना होगा जिसके नंबर 1800-180-1551 हैं।
  • अब किसान कॉल सेंटर एजेंट आपसे आपके बारे में आवश्यक जानकारी पूछेगा। आपके द्वारा बताई हुई जानकारी को Kisan Knowledge Management System (KKMS) में रिकॉर्ड किया जाएगा।
  • आपसे भाषा का चयन और सुचना प्राप्त करने के लिए विकल्प (टेक्स्ट या वॉइस मैसेज) और फसल की जानकारी भी पूछी जाएगी।
  • आपका रजिस्ट्रेशन सफलतापूर्वक हो जाने पर आपको वेलकम मैसेज प्राप्त हो जाएगा।

– SMS के जरिये

  • आपको जिस मोबाइल नंबर से पंजीकरण करना है उससे एक मैसेज टाइप करना होगा जो इस तरह होगा – “KISAAN REG <आपका नाम>, <राज्य का नाम>, <जिले का नाम>, <ब्लॉक का नाम>” (राज्य, जिला और खंड के नाम के पहले 3 अक्षर ही जरूरी हैं)

KISAAN REG Kishan Ram, Rajasthan, Udaipur, Gogunda

  • अब आपको यह मैसेज 51969 या 7738299899 पर भेज देना है। तो आपका पंजीकरण सफलतापूर्वक हो जाएगा।

https://mkisan.gov.in/registration.aspx

Mkisan Registration

टिप्पणियाँ(0)

अपनी प्रतिक्रिया दें।

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जायेगा। चिह्नित फ़ील्ड आवश्यक है *